कांग्रेस को मिलेगा नया अध्यक्ष, सोनिया गांधी बोलीं- सब मिलकर नया प्रमुख चुनें

0
29
sonia-gandhi-said,-all-together-choose-new-chief,-does-not-want-to-fulfill-the-responsibilities

ख़बर सुनें

कांग्रेस में सोनिया गांधी का अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर एक साल पूरा हो चुका है और पार्टी अब नए सिरे से अध्यक्ष चुनने के लिए तैयार है। इसी दिशा में सोमवार को कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक भी होनी है। हालांकि बैठक से पहले कांग्रेस के कई नेता और पूर्व मंत्रियों समेत 23 लोगों ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी में कई बदलाव करने की मांग की है और साथ ही अध्यक्ष पद के लिए चुनाव कराने के लिए भी कहा है।

अब कुछ न्यूज चैनल के हवाले से कहा जा रहा है कि सोनिया गांधी ने इस पत्र का संज्ञान लिया है और उसपर अपनी बात रखी है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के नेताओं के एक समूह द्वारा लिखे गए पत्र का जवाब देते हुए कहा है कि उन सभी को एक साथ मिलकर एक नया प्रमुख खोजना चाहिए क्योंकि वह जिम्मेदारियों को पूरा नहीं करना चाहती हैं।

अपनी पहचान गुप्त रखते हुए पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि 10 अगस्त को कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) द्वारा उनसे फिर से संगठन की बागडोर संभालने का अनुरोध करने पर गांधी ने कहा था कि उन्हें एक बार फिर से पार्टी का नेतृत्व करने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

कांग्रेस में सोनिया गांधी का अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर एक साल पूरा हो चुका है और पार्टी अब नए सिरे से अध्यक्ष चुनने के लिए तैयार है। इसी दिशा में सोमवार को कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक भी होनी है। हालांकि बैठक से पहले कांग्रेस के कई नेता और पूर्व मंत्रियों समेत 23 लोगों ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी में कई बदलाव करने की मांग की है और साथ ही अध्यक्ष पद के लिए चुनाव कराने के लिए भी कहा है।

अब कुछ न्यूज चैनल के हवाले से कहा जा रहा है कि सोनिया गांधी ने इस पत्र का संज्ञान लिया है और उसपर अपनी बात रखी है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के नेताओं के एक समूह द्वारा लिखे गए पत्र का जवाब देते हुए कहा है कि उन सभी को एक साथ मिलकर एक नया प्रमुख खोजना चाहिए क्योंकि वह जिम्मेदारियों को पूरा नहीं करना चाहती हैं।

अपनी पहचान गुप्त रखते हुए पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि 10 अगस्त को कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) द्वारा उनसे फिर से संगठन की बागडोर संभालने का अनुरोध करने पर गांधी ने कहा था कि उन्हें एक बार फिर से पार्टी का नेतृत्व करने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

Advertisement :

Advertise with us

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here