गोरखपुर में कोरोना का आंकड़ा सात हजार के पार, जल्द मिलेगी एल-टू, थ्री लेवल के चार सौ बेड की सुविधा

0
36
dm-vijayendra-pandian-informed-300-corona-bed-are-being-built-in-brd-medical-college-and-100-in-aiims

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के लोगों को जल्द ही एल टू और एल थ्री लेवल के चार सौ बेड की सुविधा उपलब्ध होगी। डीएम के विजयेंद्र पांडियन ने बताया कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज के बाल संस्थान में 300 और एम्स में 100 बेड के अस्पताल का कार्य तेजी से चल रहा है।

डीएम ने बताया है कि एल-वन फैसिलिटी सेंटर के रूप में जिले के चार चिकित्सालयों को अधिकृत किया गया है। इसमें 1400 से अधिक बेड तैयार है। एल-टू फैसिलिटी के रूप में नौ चिकित्सालयों को अधिकृत किया गया है। इसमें 222 बेड उपलब्ध है। एल-थ्री के दो सेंटरों पर 225 बेड उपलब्ध है।

डीएम ने बताया कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में तीन आरटीपीसीआर मशीन उपलब्ध है। ट्रूनेट मशीन जिला अस्पताल में है। चार निजी लैब भी कोरोना संक्रमितों की जांच कर रही हैं।

गुरू गोरक्षनाथ चिकित्सालय सहित अन्य चिकित्सालयों में भी कोरोना संक्रमितों की जांच करने के साथ साथ इलाज भी किया जा रहा है। बताया है कि 840 सर्विलांस टीमें डोर-टू-डोर सर्वे के लिए लगाई गईं हैं। जिले में अभी 448 हाट स्पॉट सक्रिय हैं। कंटेनमेंट जोन के लिए इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है।

जिले में अबतक कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा सात हजार के पार (70008) पार पहुंच गया है। इनमें 4125 मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि एक्टिव मरीज 2789 हैं। वहीं, संक्रमण से मरने वालों की संख्या 103 पहुंच गई है।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के लोगों को जल्द ही एल टू और एल थ्री लेवल के चार सौ बेड की सुविधा उपलब्ध होगी। डीएम के विजयेंद्र पांडियन ने बताया कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज के बाल संस्थान में 300 और एम्स में 100 बेड के अस्पताल का कार्य तेजी से चल रहा है।

डीएम ने बताया है कि एल-वन फैसिलिटी सेंटर के रूप में जिले के चार चिकित्सालयों को अधिकृत किया गया है। इसमें 1400 से अधिक बेड तैयार है। एल-टू फैसिलिटी के रूप में नौ चिकित्सालयों को अधिकृत किया गया है। इसमें 222 बेड उपलब्ध है। एल-थ्री के दो सेंटरों पर 225 बेड उपलब्ध है।

Advertisement :

Advertise with us

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here